ISI और PAK सेना ने मिलकर की थी अभिनंदन को तोड़ने की पूरी कोशिश, पर जरा भी नहीं झुका भारत का वीर योद्धा

नमस्कार, पाकिस्ताशन से वापस लौटने के बाद भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान को सबसे पहले पालम एयरपोर्ट पर अपने परिवार से मिलवाया गया! इसके बाद वायुसेना उन्हें सेना के आरआर अस्पताल लेकर गई जहाँ अभिनंदन की शारीरिक जांच के अलावा मानसिक स्वास्थ्य के लिए एक मनोवैज्ञानिक चिकित्सक द्वारा जांच की जाएगी! साथ ही ये भी जांचा जाएगा कि पाकिस्तानन ने उनके शरीर में कोई चिप या दूसरी चीज तो नहीं लगा दी! जानकारों की माने तो दो दिन तक पाकिस्तान की कैद में रहने के दौरान आईएसआई और पाकिस्तानी सेना ने कई मौकों पर विंग कमांडर अभिनंदन को प्रताड़ित करने की कोशिश की होंगी!पाकिस्तान ने पूरी कोशिश की, की अगर किसी भी मौके पर अभिनंदन कमजोर पड़ते हैं या अपनी रिहाई के लिए गिड़गिड़ाते हैं तो सबसे पहले उनका एक ऐसा वीडियो तैयार किया जाए. और इसीलिए ही पाकिस्तानी सेना ने दो से तीन मौकों पर अभिनंदन के अलग-अलग तरीके से वीडियो बनाए, लेकिन वो इसमें कामयाब नहीं हो पाए! बतादे अपने मजबूत इरादों और देशप्रेम के दम पर ही अभिनंदन ने वायुसेना या देश से जुड़ा कोई भी राज पाकिस्तान सेना को नहीं बताया. यहाँ तक की दुश्मन देश ने अभिनंदन को उनके परिवार से लेकर हर संभव दबाव डाला लेकिन वो अभिनंदन के मजबूत इरादों को नहीं तोड़ पाए!

खबर के मुताबिक आज सुबह अभिनंदन ने इडली के साथ हल्का नाश्ता किया और इसके बाद अस्पताल में उनकी शारीरिक और मानसिक जांच की जा रही है! बतादे मिग-21 विमान हादसे का शिकार होने के बाद अभिनंदन POK में पैराशूट के जरिए गिरे,जहाँ उनके साथ मारपीट की गई जिसका एक विडियो पाकिस्तान ने रिलीज़ भी किया था. इससे आशंका है कि उन्हें कई तरह की अंदरूनी चोट हो सकती हैं. ऐसे में सेनाओं के डॉक्टर द्वारा उनकी पूरी तरह से शारीरिक और मानसिक जांच की जा रही है!बतादे अभी विंग कमांडर अभिनंदन से डिब्रीफिंग यानी की पूछताछ की प्रक्रिया भी होगी लेकिन उसमें समय लग सकता है. क्योकि पहले अभिनंदन के शारीरिक और मानसिक तौर पर फिट होने और सामान्य स्थिति में लौटने के बाद ही इस प्रक्रिया को शुरू किया जाएगा. फिर बात करने के लिए तैयार होने पर अभिनंदन से पाकिस्तानी आर्मी की कैद में रहने के दौरान जो भी उनके साथ हुआ उसके बारे में जानकारी ली जाएगी! बतादे इस प्रक्रिया में अभिनंदन भारत की सभी खुफिया एजेंसियां  आईबी, रॉ,मिलट्री इंटेलिजेंस, वायुसेना और विदेश मंत्रालय के बड़े अधिकारियों के सामने अपने अनुभव को साझा करेंगे!

आखिर कौन है ये महिला, जो विंग कमांडर अभिनंदन को वाघा बॉर्डर तक छोड़ने आई? जानियें !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here