अब चीन को मिलेगा करारा जवाब, भारत सरकार ने सेना को दी खुली छुट, चीन को मिलेगा उसी की भाषा में जवाब

govt given full freedom to indian army deal with china on border
सरकार ने सेना को एलएसी पर चीन को मुहतौड़ जवाब देने के लियें हथियार चलाने और गोलाबारी करने की छूट दे दी है
नमस्कार दोस्तों, भारत चीन के बीच चल रहे विवाद में अब भारत की तरफ से बड़ी कार्यवाही की गई है. दरसल भारत को ऐसा लग रहा है की एलएसी पर चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. वो कभी भी फायरिंग कर सकता है. ऐसे में भारत भी पीछे हटने वाला नहीं है!

सेना को मिली खुली छुट

बतादे की सरकार ने सेना को एलएसी पर चीन को मुहतौड़ जवाब देने के लियें हथियार चलाने और गोलाबारी करने की छूट दे दी है. मतलब यह की अब हमारे वीर सैनिक किसी भी तरह की बंदिश में नहीं है. दरसल आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने तीनों सेना प्रमुख और सीडीएस, जनरल बिपिन रावत के साथ चीन सीमा पर चल रहे विवाद को लेकर अहम् बैठक की. एक घंटे तक चली इस मीटिंग में रक्षा मंत्री ने भारतीय सेना को चीन सीमा पर उत्पन्न किसी भी विषम-परिस्थिति में किसी भी तरह की कार्रवाई करने की खुली छूट दी है. मतलब यह की अब हमारे सैनिक चीन को उसी की भाषा में जवाब देंगे!

govt given full freedom to indian army deal with china on border

रक्षा मंत्री जा रहे रूस

जानकारी देदें की 22 जून से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तीन दिव‌सीय रूस यात्रा पर जा रहे हैं. इसलियें उन्होंने गलवान घाटी में पर चल रहे हालात को देखते हुए मीटिंग में यह फ़ैसला लिया. रिपोर्ट के मुताबिक सूत्रों के मुताबिक 15-16 जून की रात हुई चीन से हुई झड़प में भारतीय सैनिकों ने गोली या हथियार का उपयोग इसलियें नहीं किया क्योंकि भारत और चीन के बीच 1996 में एलएसी पर फायरिंग और गोलाबारी ना करने की ‘मिलिट्री फील्ड’ संधि हुई थी. इस संधि केके तहत किसी भी परिस्थिति में भारतीय सैनिक यहां फायरिंग नहीं सकते थे!
लेकिन चीन की हरकतों को देखते हुए भारत सरकार ने चीन के साथ सीमा पर शांति बनाए रखने वाली संधि को दरकिनार करते हुए सेना को खुली छुट दे दी है!

यह ख़बर भी देखियें- बड़ी ख़बर: भारत में इस कोरोना दवा को मिली मंजूरी, 103 रुपयें होगी कीमत !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here