स्वामी रामदेव और आचार्य बालकृष्ण के खिलाफ यहाँ हुई FIR दर्ज, लगाया ये इल्ज़ाम

FIR against yoga guru Ramdev Patanjali,4 other over corona tablet coronil
नमस्कार दोस्तों, सबसे बड़े योग गुरु स्वामी रामदेव (Ramdev) ने कुछ दिन पहले ही कोरोना वायरस की दावा ‘कोरोलीन’ (Corolin) लांच की है. ऐसे में देश में एक नई ख़ुशी की लहर है. हालाँकि कई राज्यों में इस दवाई को लेकर वहां की सरकार को संदेह है और उन्होंने इसकी बिक्री पर लोग लगा राखी है. वही अब खबर आ रही है की राजस्थान में स्वामी रामदेव के खिलाफ थाने में रिपोर्ट हुई है!

FIR against yoga guru Ramdev Patanjali,4 other over corona tablet coronil

ख़बर के मुताबिक स्वामी रामदेव के खिलाफ राजस्थान की राजधानी जयपुर के ज्योतिनगर थाने (Jyotinagar police station) में मामला दर्ज किया गया है. इस रिपोर्ट में दिव्य फार्मेसी के प्रबंध निदेशक आचार्य बालकृष्ण और पतंजली रिसर्च इस्टीट्युट के वरिष्ठ वैज्ञानिक अनुराग वाष्णेर्य के अलावा डॉ. बलवीर सिंह तोमर व डॉ.अनुराग सिंह तोमर का भी नाम शामिल है. बतादे यह एफआईआर एडवोकेट बलराम जाखड़ और अंकित कपूर नाम के शख्स ने दर्ज करवाई है!

FIR against yoga guru Ramdev Patanjali,4 other over corona tablet coronil

इस कारण हुई रिपोर्ट

रिपोर्ट में आरोप लगाया गया है कि महामारी के दौरान लोगों को धोखा देकर, फर्जी दवाई बनाकर अरबों रुपए कमाने के आशय से आरोपियों ने योजनाबद्ध तरीके से सभी टीवी चैनल्स पर कोविड-19 की दवा कोरोनिल बना लेने का दावा किया. यह धारा 188, 420, 467, 120बी, भादस संगठित धारा 3, 4, राजस्थान एपीडेमिक डिजीज ऑर्डिनेंस 2020, धारा 54, आपदा प्रबंधन अधिनियम एवं धारा 4/7  और ड्रग्स एंड मेजिक रेमेडीज एक्ट 1954 के अधीन दंडनीय अपराध है. दरसल निम्स और स्वामी रामदेव की ओर ऐसा दावा किया गया था कि उन्होंने इस दवा का ट्रायल किया है. लेकिन आयुष मंत्रालय ने इसे लेकर सवाल कई उठाए. हालाँकि इसके बाद आचार्य बालकृष्ण ने शोध के दस्तावेज और उससे जुडी सभी जानकारी आयुष मंत्रालय को भेज दी थी!

यह ख़बर भी देखियें- 1.8 करोड़ की Lamborghini कार खरीदने के मात्र 20 मिनट बाद हुआ ऐसा की देखकर चौंक जाएँगे आप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here