कांग्रेस मे अध्यक्ष को लेकर उथल‌- पुथल, उधर बीजेपी का दाव अब दक्षिण भारत पर

0
38
The upheaval of the president in the Congress, the BJP's claim on South

नमस्कार मित्रो‌, बतादे कि कांग्रेस से राहुल गांघी ने अध्यक्ष पद से इस्तिफा दे दिया है, लेकिन अब तक भी किसी को इस पद पर नियुक्त नही किया गया है। ऐसे मे अमित शाह ने कहा, ‘बीजेपी ने पहले कर्नाटक में सरकार बनाई थी। फिर भी हमें कहा जाता है कि भाजपा दक्षिण में नहीं है।

मैं इतना कहना चाहता हूं कि चाहे तेलंगाना हो, आंध्र हो या केरल हो..इन तीनों राज्यों को किसी दिन भाजपा का गढ़ बनाना होगा।’ उन्होंने कहा, ‘यह तेलंगाना के लोगों के लिए महामुकाबला है।

 The upheaval of the president in the Congress, the BJP's claim on South

Modi Budget 2019- गरीबो को बल, युवाओं को बेहतर कल ओर अमीरों पर लगाम

एक ओर जहां कांग्रेस मे अध्यक्ष पद के लिए चेहरा तलाशने में भी उथल- पुथल मची है वहीं ऐसा लग रहा है कि 2014 मे भाजपा की  तरह सरकार बनते ही पीएम मोदी और पूरी बीजेपी 2019 की तैयारी में जुट गए थे, ऐसा ही माहोल कांग्रेस मे दिखाई दे रहा है।

मोदी मिशन 2024

बात दे की पीएम मोदी और पूरी पार्टी अब 2024 की तैयारी में अभी से जुट गई है।शनिवार को ही पीएम मोदी ने बीजेपी के देशव्यापी सदस्यता अभियान की शुरुआत कर दी है। अभी तक बीजेपी की कमान संभाल रहे गृहमंत्री अमित शाह बीजेपी को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बनाने का दावा करते हैं और कहना गलत भी नही होगा कि बीजेपी की इतनी बड़ी जीत में कार्यकर्ताओं की भारी फौज का भी बड़ा हाथ है| The upheaval of the president in the Congress, the BJP's claim on South

एक ओर जहां काशी में पीएम मोदी सदस्यता अभियान की शुरुआत के बाद 5 हजार कार्यकर्ताओं के बीच बजट की बारीकियों के साथ अगले 5 साल का खाका खींच रहे थे तो दूसरी ओर गृहमंत्री अमित शाह पार्टी कार्यकर्ताओं से तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और केरल जैसे दक्षिणी राज्यों को एक दिन पार्टी का गढ़ बनाने की दिशा में काम करने के लिए कहा।

शाह ने कहा, ‘बीजेपी ने पहले कर्नाटक में सरकार बनाई थी. फिर भी हमें कहा जाता है कि भाजपा दक्षिण में नहीं है. मैं इतना कहना चाहता हूं कि चाहे तेलंगाना हो, आंध्र हो या केरल हो..इन तीनों राज्यों को किसी दिन भाजपा का गढ़ बनाना होगा.’ उन्होंने कहा, ‘यह तेलंगाना के लोगों के लिए मुकाबला है. आपको फैसला करना है कि तेलंगाना पहले गढ़ बनेगा या आंध्र या केरल’। The upheaval of the president in the Congress, the BJP's claim on South

 

दक्षिण भारत के लिए मौका
कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस की सरकार संकट में हैं। 13 विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है। बहुमत के लिए 113 विधायक चाहिए और गठबंधन सरकार के पास 116 विधायक हैं। वहीं बीजेपी के पास 103 विधायक हैं। अगर कर्नाटक में सरकार गिरती है तो यह कांग्रेस के लिए बड़ा झटका होगा क्योंकि लोकसभा चुनाव में राज्य में उसकी करारी हार हुई थी. 28 सीटों में बीजेपी को 25 सीटें मिली हैं।

बल्लेबाज भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय पर गुस्साए पीएम मोदी, कही यह बड़ी बात

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here