विंग कमांडर अभिनंदन की वतन वापसी के बाद जानिए पिछले 56 घंटों में पाकिस्तान ने क्या किया उनके साथ?

0
244
नमस्कार, भारतीय पायलट अभिनंदन लगभग 56 घंटो बाद पाकिस्‍तान से अपने वतन वापस लौटे है. दुश्मन देश के लड़ाकू विमान को मार गिराने वाले वीर योद्धा अभिनंदन ने अटारी वाघा बॉर्डर से भारत में प्रवेश किया. बतादे अपने वीर जवान अभिनंदन का स्वागत करने के लिये बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे. इससे ठीक एक दिन पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद में ये ऐलान किया था कि भारतीय पायलट अभिनंदन को शुक्रवार को रिहा कर दिया जाएगा! तो चलियें हम आपको बताते है अभिनंदन द्वारा पाकिस्तान के लड़ाकू विमान को मार गिराने से लेकर अब तक की पूरी कहानी!

दरसल 27 फरवरी को पाकिस्तान वायुसेना के कई लड़ाकू विमान तेजी से भारतीय सीमा की ओर बढ़ रहे थे. पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को आता देख भारतीय वायुसेना ने अपने लड़ाकू विमानों से फौरन मोर्चा संभाला. दरसल पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों ने राजौरी से भारत की वायुसीमा में घुसपैठ करने की और हमारे भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की. लेकिन हमारी चौकन्नी वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों को घेर लिया. और इसी वायुसेना के बेड़े में एक लड़ाकू विमान मिग-21 शामिल था जिसमें सवार थे विंग कमांडर अभिनंदन. इसके बाद तो भारतीय लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तानी के लड़ाकू विमानों को खदेड़ना शुरू किया! आसमान में दोनों देशों के लड़ाकू विमानों की भिड़ंत शुरू हुई और मिग-21 पर सवार विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान के F-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया. अपने एक विमान को गिरता देख पाकिस्तान के बाकी लड़ाकू विमान उल्टे पैर भागने लगे. लेकिन इसी हवाई भिड़ंत में भारतीय विमान मिग-21 पाकिस्तान इलाके में जा गिरा. और इसी विमान में सवार थी विंग कमांडर अभिनंदन. दरसल अभिनंदन ने अपना विमान गिरता देख उसमे से पैराशूट द्वारा छलांग लगा दी और वो पीओके मेपहंच गए जहां उन्हें पाकिस्तानी फौज ने पकड़ लिया!

फिर भारतीय वायुसेना ने अपने एक IAF पायलट की मिसिंग खबर दी. इसके कुछ घंटे बाद पाकिस्तानी सेना ने एक वीडियो जारी किया.जिसमे एक IAF पायलट खुद को विंग कमांडर अभिनंदन के रूप में पहचानते हुए दिखाया गया. इसके बाद अभिनंदन के एक के बाद एक कई वीडियो जारी हुए, जिसमें से एक में उनपर हमला करते हुए भी दिखाया गया. वही फिर एक वीडियो में अभिनंदन चाय पीते नजर आए साथ ही उनसे पाकिस्तान सेना द्वारा कई सवाल किए जा रहे थे. इसके तुरंत बाद भारत विदेश मंत्रालय ने बयान जारी किया जिसमे भारतीय पायलट को हिरासत में लेना और उसका वीडियो सार्वजनिक रूप से जारी करना मानवीय कानून और जिनेवा संधि के नियमों के खिलाफ है. साथ ही भारत ने पाकिस्तान से भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़ने को कहा! फिर कुछ घंटे बाद ही पाकिस्तानी मीडिया ने एक विडियो जारी किया जिसमे पायलट अभिनंदन को यह बोलते हुए दिखाया कि पाकिस्तान सेना उनके साथ बहूत अच्छा बर्ताव कर रही है!

इसके बाद 28 फरवरी को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि अगर भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन की वापसी से सीमा पर तनाव कम होता है, तो वे इस पर विचार करने को तैयार हैं. वहीं भारत सरकार ने बिना कोई शर्त के जल्द से जल्द अभिनंदन की रिहाई की मांग की और कहा कि इस पर कोई भी सौदेबाजी नहीं होगी!

फिर उसी दिन यानी 28 फरवरी को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद को संबोधित करते हुए ऐलान कर दिया कि वो शुक्रवार को भारतीय पायलट अभिनंदन को रिहा कर देंगे. हालाँकि इस दौरान पाकिस्तान प्रधानमंत्री ने यह दावा भी किया कि वो शांति पहल के तहत ऐसा कर रहे है!

1 मार्च को हिंदुस्तान में विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी का इंतजार होने लगा. लोग सुबह से ही वाघा बॉर्डर पर जमा हो गए. अभिनंदन की वापसी पर पुरे देश में जश्न का माहौल था. पूरा देश अपने वीर योद्धा के लौटने का इंतजार कर रहा था. कमांडर अभिनंदन को लेने वायुसेना के अधिकारी वाघा बॉर्डर पहुंचे. और फिर दिनभर के लम्बे इंतजार के बाद रात 9 बजकर 20 मिनट पर पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को भारत को सौंप दिया और हमारा देश का वीर योद्धा अपने देश वापस लौट आया! तो दोस्तों आर्टिकल पसंद आया तो लाईक और शेयर जरुर करें!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here